बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये (Baba Ki Daya Se Mhare Dhol Baj Gaye)

बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये (Baba Ki Daya Se Mhare Dhol Baj Gaye)

इस Post में आपको बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये (Baba Ki Daya Se Mhare Dhol Baj Gaye) का हिंदी में Lyrics दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये (Baba Ki Daya Se Mhare Dhol Baj Gaye) आपके लिए जरूर उपयोगी साबित होगा | BhajanRas Blog पे आपको सभी देवी देवताओ की आरतिया,चालीसा, व्रत कथा, नए पुराने भजन, प्रसिद्ध भजन और कथाये ,पूजन विधि, उनका महत्व, उनकी व्रत कथाये BhajanRas.com पे आप हिंदी में Lyrics पढ़ सकते हो।

बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये (Baba Ki Daya Se Mhare Dhol Baj Gaye)

बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये (Baba Ki Daya Se Mhare Dhol Baj Gaye)
बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग ||

मेंहदीपुर का स धाम निराला,
किस्मत का यो खोलः र ताला,
घाटे आले बाबा महारे मन रजगे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग,
बाबा की दया ते महारः ढ़ोल बजगे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग ||

मेरी राम जी कह देना -हनुमान जी के भजन – Meri Ram Ji Kah Dena -Hanuman Ji Ke Bhajan

बालाजी ने रे मेहर फिराई,
दिल से सवामणी मन्नै लाई,
कुणबे के लोग बुराई तजगे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग,
बाबा की दया ते महारः ढ़ोल बजगे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग ||

पहले मेरा जीवन बड़ा ही अजीब था,
काम करया टुट क पर रहता गरीब था,
माड़ा सा नसीब था कर्म चढ़गे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग,
बाबा की दया ते महारः ढ़ोल बजगे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग ||

श्यामड़ी आले जपै नाम अनमोल है,
बल्लू ठेकेदार रटः ह्रृदय के पट खोल है,
कौशिक जी तो दिल तं भजगे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग,
बाबा की दया ते महारः ढ़ोल बजगे,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग ||

बाबा की दया से म्हारे ढोल बज गये,
कोठी बंगले तो अनमोल सजग ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *