मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया- Mor Mukut Tere Hathon Me Shree Krishan Bhajan

मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया- Mor Mukut Tere Hathon Me Shree Krishan Bhajan

इस Post में आपको मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया- Mor Mukut Tere Hathon Me Shree Krishan Bhajan का हिंदी में Lyrics दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया- Mor Mukut Tere Hathon Me Shree Krishan Bhajan आपके लिए जरूर उपयोगी साबित होगा | BhajanRas Blog पे आपको सभी देवी देवताओ की आरतिया,चालीसा, व्रत कथा, नए पुराने भजन, प्रसिद्ध भजन और कथाये ,पूजन विधि, उनका महत्व, उनकी व्रत कथाये BhajanRas.com पे आप हिंदी में Lyrics पढ़ सकते हो।

मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया श्री कृष्ण भजन लिरिक्स,
Mor Mukut Tere Hathon me Krishan Bhajan

यहाँ  मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया श्री कृष्ण भजन लिरिक्स -Mor Mukut Tere Hathon me  Shree Krishan Bhajan दिए गया है

मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया,
देवी देवता सब नर और नारी,
जाएं बलिहारी बलिहारी ।
सांवली सूरत तेरी तिरछी रे नजरिया,
मन में है बसी तेरी बांकी छवि,
मेरे गिरधारी गिरधारी ।
सांवली सूरत तेरी तिरछी रे नजरिया,
ऐसी अलबेली ऐसी प्यारी,
छवि अलबेली श्याम की,

यहाँ कृष्ण जी के भजन  दिया गया है
श्याम के रंग में रंग दी है काया,
लगन लगी तेरे नाम की,
राह पकड़ ली हमने कन्हैया ,
अब तो तेरे धाम की,
अबे नहीं छूटे तेरे दर की डगरिया,
अबे नहीं छूटे तेरे दर की डगरिया,
मन में है बसी तेरी बांकी छवि,
मेरे गिरधारी गिरधारी ।
सांवली सूरत तेरी तिरछी रे नजरिया…..
सूरदास के छोटे ललना,
मीरा के भरतार हो,
राधा के हो प्रेमी प्रीतम,
संतो के तारणहार हो,
अर्जुन के तुम बने सारथी,
अर्जुन की तुम बने सारथी,
भक्तों के दातार हो,
जैसे भाव वैसे देखे रे सांवरिया,
देवी देवता सब नर और नारी,
जाएं बलिहारी बलिहारी,
सांवली सूरत तेरी तिरछी रे नजरिया…..
गोपी गवाल संग धेनु चरावे,
माखन चोर गोपाल रे,
कुंज गली में रास रचाये,
नटखट श्री नंदलाल रे,
चीर चुराये रे मटकी गिराये,
बैठे कदम की डाल रे,
लीला तेरी देख के,
मन रे बांवरिया ,
मन में है बसी तेरी बांकी छवि,
मेरे गिरधारी गिरधारी ।
सांवली सूरत तेरी तिरछी रे नजरिया….
नाता हमारा जन्मो पुराना,
तू रहना मेरे साथ मे,
चाहे दुनिया हाथ छोड़ दे,
तू न छोड़ना मेरा हाथ रे ,
पार भवर से नाव लगा दे,
जगदीश्वर भगवान रे,
चरणों मे तेरे मेरी,
बीती रे उमरिया,
देवी देवता सब नर और नारी,
जाएं बलिहारी बलिहारी
सांवली सूरत तेरी तिरछी रे नजरिया….

यहाँ  मोर मुकुट तेरे हाथों में बांसुरीया श्री कृष्ण भजन लिरिक्स -Mor Mukut Tere Hathon me  Shree Krishan Bhajan दिए गया है

Popular krishna bhakti bhajan

Aryan Sharma

आर्यन शर्मा भजन रस में पौराणिक ऐतिहासिक विभाग का नेतृत्व करते हैं। दिल्ली के रहने वाले आर्यन ने माखनलाल चतुर्वेदी कॉलेज से पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। पौराणिक इतिहास की दुनिया में देखने वाले आर्यन को चक्र में करीब चार साल का अनुभव रखते हैं।