कन्हैया मित्तल भजन मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग (Mujhe Chad Gaya Shyam Ke Rang)

कन्हैया मित्तल भजन मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग (Mujhe Chad Gaya Shyam Ke Rang)

इस Post में आपको कन्हैया मित्तल भजन मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग (Mujhe Chad Gaya Shyam Ke Rang) का हिंदी में Lyrics दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि कन्हैया मित्तल भजन मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग (Mujhe Chad Gaya Shyam Ke Rang) आपके लिए जरूर उपयोगी साबित होगा | BhajanRas Blog पे आपको सभी देवी देवताओ की आरतिया,चालीसा, व्रत कथा, नए पुराने भजन, प्रसिद्ध भजन और कथाये ,पूजन विधि, उनका महत्व, उनकी व्रत कथाये BhajanRas.com पे आप हिंदी में Lyrics पढ़ सकते हो।

मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग,
खाटू वाले श्याम का,
मीरा के घनश्याम का,
मैं तो हो गया मस्त मलंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।

इस रंग पे बजरंगी नाचे,
इस रंग पे नरसी थे नाचे,
इनकी भक्ति देख के,
इनकी भक्ति देख के,
दुनिया रह गई दंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।

इस रंग पे मीरा थी नाची,
इस रंग पे शबरी थी नाची,
भक्ति करने का दुनिया को,
भक्ति करने का दुनिया को,
दे गए ये तो ढंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।

दुनिया चार दिनों का मेला,
देख के या खाटू का मेला,
जप ले ‘कन्हैया’ मौज करेगा,
जप ले ‘कन्हैया’ मौज करेगा,
जब सांवरिया संग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।

मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग,
खाटू वाले श्याम का,
मीरा के घनश्याम का,
मैं तो हो गया मस्त मलंग,
मुझें चढ़ गया श्याम का रंग रंग।।

2 thoughts on “कन्हैया मित्तल भजन मुझे चढ़ गया श्याम का रंग रंग (Mujhe Chad Gaya Shyam Ke Rang)

  1. I don’t think the title of your article matches the content lol. Just kidding, mainly because I had some doubts after reading the article.

  2. Can you be more specific about the content of your article? After reading it, I still have some doubts. Hope you can help me.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *