कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं (Kaliyug Me Siddha Ho Dev Tumhi)

कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं (Kaliyug Me Siddha Ho Dev Tumhi)

इस Post में आपको कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं (Kaliyug Me Siddha Ho Dev Tumhi) का हिंदी में Lyrics दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं (Kaliyug Me Siddha Ho Dev Tumhi) आपके लिए जरूर उपयोगी साबित होगा | BhajanRas Blog पे आपको सभी देवी देवताओ की आरतिया,चालीसा, व्रत कथा, नए पुराने भजन, प्रसिद्ध भजन और कथाये ,पूजन विधि, उनका महत्व, उनकी व्रत कथाये BhajanRas.com पे आप हिंदी में Lyrics पढ़ सकते हो।

कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं

कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं,
हनुमान तुम्हारा क्या कहना ।
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना ॥
सीता की खोज करी तुमने,
तुम सात समुन्दर पार गये ।
लंका को किया शमशान प्रभु,
बलवान तुम्हारा क्या कहना ॥
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना ।
॥ कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं…॥

जब लखन लाल को शक्ति लगी,
तुम द्रोणागिरी पर्वत लाये ।
लक्ष्मण के बचाये आ कर के,
तब प्राण तुम्हारा क्या कहना ॥
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना ।
॥ कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं…॥

तुम भक्त शिरोमनी हो जग में,
तुम वीर शिरोमनी हो जग में ।
तेरे रोम रोम में बसते हैं सिया राम,
तुम्हारा क्या कहना ॥

कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं,
हनुमान तुम्हारा क्या कहना ।
तेरी शक्ति का क्या कहना,
तेरी भक्ति का क्या कहना ॥

2 thoughts on “कलियुग में सिद्ध हो देव तुम्हीं (Kaliyug Me Siddha Ho Dev Tumhi)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *